हमारे बारे में

राष्ट्रीय सहकारी प्रशिक्षण परिषद् का गठन भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ द्वारा इसकी उपविधियों के अंतर्गत भारत सरकार, कृषि मंत्रालय, कृषि एवं सहकारिता विभाग की सहमति से किया गया है। परिषद् समूचे देश के सहकारी क्षेत्र में कार्यरत कार्मिकों के सहकारी प्रशिक्षण के संगठन, निर्देशन, प्रबोधन एवं मूल्याकंन के लिए उत्तरदायी है। परिषद् का मुख्य उद्देश्य आवश्यकता पर आधारित प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन करना तथा देश की सहकारिताओं में मानव संसाधन विकास की प्रक्रियाओं को सुविधाजनक बनाना है। परिषद् सहकारी आंदोलन के महत्वपूर्ण क्षेत्रों में अनुसंधान कार्यक्रमों के संचालन पर भी विचार करती है।

परिषद् ने राष्ट्रीय स्तर पर वैमनीकाॅम पुणे, क्षेत्रीय स्तर पर चंडीगढ़, बंगलौर, कल्याणी, गांधीनगर एवं पटना में पांच क्षेत्रीय सहकारी प्रबंध संस्थानों एवं भोपाल, भुवनेश्वर, चेन्नई, देहरादून, गुवाहाटी, हैदराबाद, इम्फाल, जयपुर, कन्नूर, लखनऊ, मदुरै, नागपुर, पूना तथा तिरूवनंतपुरम में स्थित 14 सहकारी प्रबंध संस्थानों की स्थापना कर अपना प्रशिक्षण ढांचा स्थापित किया है।

फोटो गैलरी और देखें

48th Conference of Chairmen & Directors of Regional Institutes / institutes of Cooperative Management organized by National Council for Cooperative Training, New Delhi

ncct ncct ncct ncct ncct ncct

(A Grant-in-Aid Institution under Ministry of Agriculture, Government Of India)